Posts

Showing posts from March, 2021

पर्दे के पीछे छुपा हुआ एक पर्दा हूँ| Sad Shayri

Image
Sad Moment For A Legendry Girl😢 पर्दे के पीछे छुपा हुआ एक और पर्दा हूँ इस्तेमाल करके छोड़ा हुआ एक लम्हा हूँ हुस्न नाम है मेरा, आज बस मैं एक मज़ाक़ भर हूँ आज हर कोई मुझे हवस की निगाह से देखता है। आज होकर भी मेरा कोई वजूद नही है।  आज मैं एक आशिक़ से ज़्यादा बदनाम हूँ  वक़्त के सौदागर ने मुझे बार और शराबखानों में ला छोड़ा है।  मैं जिसे मिलती हूँ उसकी जिंदगी को तबाह कर डालती हूँ।